Women Self Respect quotes in Hindi

Women Self Respect quotes in Hindi : हर आदमी को हर एक महिला का सम्मान करना चाहिए, क्योंकि महिलाएं समाज की संरचना को बनाए रखती हैं. आज के समय में, महिलाएं न केवल आदमियों के साथ कदम से कदम मिलाकर बढ़ रही हैं, बल्कि वे हर क्षेत्र में उत्कृष्टता की ऊंचाइयों तक पहुंच चुकी हैं.

रिश्तों में आत्मसम्मान का होना अत्यंत महत्वपूर्ण है. अगर हम रिश्तों में किसी के भी आत्मसम्मान का समर्पण नहीं करते, तो वे रिश्ते कमजोर हो सकते हैं. इससे निकलने के लिए हमने आपके लिए आत्मसम्मान पर हिंदी में अनमोल विचार लाए हैं. इससे हमारा समाज मजबूत बनेगा और समृद्धि की ऊँचाइयों को छूने में सहायक होगा. तो आईए देखते हैं Women Self Respect quotes in hindi …

Women Self Respect quotes in Hindi :

आज हमने Women Self Respect quotes in hindi के माध्यम से महिलाओं के लिए कुछ अनमोल विचार बताए हैं, जो न केवल उन्हें प्रेरित करेंगे, बल्कि उन्हें भी आत्म-सम्मान में आगे बढ़ने की दिशा में सहायक होंगे..

 

1. उस व्यक्ति की महत्वपूर्णता कभी मत करें

जो आपकी इज्ज़त की कदर नहीं करता,

बल्कि उसे अहंकार मत समझें;

उसे आत्म-सम्मान कहा जाता है.

 

2. अगर आपको अपने सम्मान की

कोई फिक्र नहीं है,

तो दूसरों को दोष देना बेकार है.

 

3. किसी भी चीज़ के लिए

अपनी अहमियत को कम मत समझें,

क्योंकि आत्मसम्मान से बड़ा कुछ है.

 

4. अगर आप चाहते हैं कि दुनिया आपकी इज्ज़त करे,

तो सबसे पहले आपको अपनी इज्ज़त करनी होगी.

 

5. जब आत्मसम्मान की बात होती है,

तो दोस्त को छोड़ना कोई बड़ी बात नहीं है

6. अगर कोई आपका अपमान करता है,

तो उसका भी शुक्रिया अदा करें,

क्योंकि वह इंसान आपको आपकी

ज़िंदगी की सच्चाई बता रहा है.

 

7. ज़्यादातर लोग उन चीज़ों की कदर नहीं करते

जो उन्हें आसानी से मिलती है,

लेकिन खो देने के बाद पछताते हैं.

8. आत्मसम्मान हो तो ऐसा हो कि अगर किसी को मदद की ज़रूरत होती है,

आप सबसे पहले उसकी मदद करें, लेकिन अगर आपको मदद की ज़रूरत होती है,

तो आपको किसी से मदद मांगने की ज़रूरत नहीं हो,

आप खुद ही अपनी मदद करने की काबिलियत रखें.

 

9. सम्मान उन लोगों का करना चाहिए जो सबका सम्मान करना जानते हैं,

न कि हर वक्त, बस सबका अपमान करना पसंद करते हैं.

 

10. मैं अपनी खासियत जान गई हूं,

दुनिया मेरी काबिलियत जल्द ही पहचान जाएगी.

 

11. किसी को ये बताने की आवश्यकता नहीं है कि आप कितने बड़े हैं,

आपके काम ही आपकी महत्वपूर्णता को साबित कर देते हैं.

 

12. जब आप अपने सम्मान के साथ काम करते हैं,

तो दुनिया आपकी ओर आकर्षित होती है.

 

13. आत्म-सम्मान का रास्ता सीधा होता है,

बिना किसी कमी के.

 

14. व्यक्ति का अधिकार यह नहीं होता कि उसे दूसरों को अपमानित करने का हक है,

बल्कि उसे खुद को समझाने और समझाने का हक है.

 

15. आत्म-सम्मान उस मिट्टी का नाम है

जिसमें सिर ऊँचा करने का जज्बा होता है.

 

16. जब आप खुद को समझते हैं,

तो आप दूसरों को भी समझते हैं.

 

17. सच्चा आत्म-सम्मान तब होता है जब

आप अपनी गलतियों से सीखते हैं और सुधारते हैं.

 

18. आत्म-सम्मान का आधार सच्चाई, ईमानदारी,

और अपनी बातों पर कड़ाई से खड़ा होना है.

 

19. विशेषज्ञता यह नहीं होती कि हम कितने बड़े काम करते हैं,

बल्कि यह है कि हम अपने कामों में कितने पूरी तरह से लगे हुए हैं.

 

20. आत्म-सम्मान की सच्ची मिसाल यह है कि

आप जो कुछ कर रहे हैं, उसमें विश्वास रखते हैं,

चाहे दुनिया कुछ भी कहे.

 

21. जब आप अपने मूल्यों पर चलते हैं,

तो आप हमेशा सही रास्ते पर चलते हैं,

चाहे समय कितना भी मुश्किल हो.

 

22. अगर कोई आपकी महत्वपूर्णता को समझता है,

तो आपको उसकी ओर से सम्मान मिलता है,

और यह आत्म-सम्मान की महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.

 

23. सच्चा आत्म-सम्मान तब होता है जब आप अपने स्वार्थ के लिए

किसी को नुकसान पहुंचाने के बजाय, उनकी मदद करते हैं.

 

24. जब आप अपने आत्म-सम्मान को उच्च रखते हैं,

तो दूसरों को भी आपकी ओर समर्पित भावना होती है.

 

25. सच्चा आत्म-सम्मान तब होता है जब आप अपनी गलतियों को

मानते हैं और उन्हें सुधारने के लिए प्रयासरत रहते हैं.

 

26. अगर आप अपनी मानवीय मूल्यों पर आधारित रहते हैं,

तो आत्म-सम्मान स्वतंत्रता का स्तर बनाए रखता है.

 

27. आत्म-सम्मान वह शक्ति है जो आपको आपकी

मानवीय स्वाभाविकता को समझाने में मदद करती है

और आपको अधिक समर्थ बनाती है.

 

28. आत्म-सम्मान से भरा हुआ व्यक्ति हमेशा आगे बढ़ता है,

क्योंकि उसे अपनी क्षमताओं पर पूरा भरोसा होता है.

 

29. सच्चा आत्म-सम्मान तब होता है जब आप अपने कार्यों में सही

और गलत का विवेचन करते हैं और उच्च मूल्यों को पहचानते हैं.

 

30. आत्म-सम्मान उस स्थिति में होता है जब आप

अपने लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए कड़ी मेहनत करते हैं,

बिना किसी समझौते के.

 

31. आत्म-सम्मान वह गुण है जो आपको

खुद को स्वीकार करने और समझने में मदद करता है,

ताकि आप अच्छे से आगे बढ़ सकें.

 

32. अगर आप अपनी बातों पर खड़े रहते हैं और

खुद को बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत रहते हैं,

तो यह आत्म-सम्मान का परिचय है.

 

33. सच्चा आत्म-सम्मान तब होता है जब आप दूसरों के साथ उच्च आदर

और समर्थन में रहते हैं, बिना किसी स्वार्थ के.

 

34. जब आप अपने कार्यों के लिए जिम्मेदारी लेते हैं और

उन्हें पूरा करने का प्रयास करते हैं,

तो यह आत्म-सम्मान की ऊँचाई को बताता है.

 

35. आत्म-सम्मान वह भौतिक और मानवीय सीमाओं के पार जाने की शक्ति है,

जो आपको सफलता की ऊँचाइयों तक पहुंचाती है.

 

36. जब आप खुद को समझते हैं

और खुद को स्वीकार करते हैं,

तो आप दूसरों की बातों से ज्यादा आत्म-सम्मान बनते हैं.

 

37. सच्चा आत्म-सम्मान तब होता है

जब आप अपने सपनों और लक्ष्यों की प्राप्ति

के लिए संघर्ष करते हैं, बिना हार माने.

 

38. आत्म-सम्मान से भरा हुआ व्यक्ति हमेशा

अपनी सीमाओं को बढ़ाने के लिए प्रेरित करता है

और नए उच्चायित लक्ष्यों की ओर बढ़ता है.

 

39. आत्म-सम्मान वह शक्ति है जो

आपको बिना किसी प्रतिबंध के अपने

मकसदों की प्राप्ति में सहायक होती है.

 

40. आत्म-सम्मान से भरा हुआ जीवन व्यक्ति को सच्ची खुशी,

अंतरंग शांति, और समृद्धि की ओर ले जाता है.

 

41. मुझे परवाह नहीं है, की आप मुझे पसंद करते हो या

नहीं लेकिन में खुद को बहुत पसंद करती हूँ.

 

42. हर एक लड़की की Respect करनी चाहिए

क्युकी light तो Electricity वाले भी देते है.

 

43. अगर में सहन करने की हिम्मत रखती हूँ,

तो में तबाह करने का हौसला भी रखती हूँ.

 

44. एक औरत को कभी रोका गया, कभी टोका गया,

कभी छोड़ा गया, कभी रखा गया, कभी परखा गया,

बस उसे कभी समझा नहीं गया, यही कटु सत्य है दोस्तों.

 

45. अपनी वफादारी को कभी भी किसी का गुलामी न

बनने दे और अपने इज़्ज़त से कभी समझौता ना करे .

 

46. आदमी अपनी किस्मत नहीं बनाता बल्कि

औरत आदमी की किस्मत को तय करती है.

 

47. एक औरत के लिए हमेशा मजबूत काम खुद की

देखभाल करना है। और खुद का सम्मान करना.

 

48. मेरी इस नरमी को कभी भी मेरी कमजोरी मत समझ बैठना,

नजर झुका कर चलती हूँ सिर्फ खुदा के दर से.

 

49. जो जन्म देती है, जो मौत से बचाती है,

जो जीवन में आगे बढ़ाती है, वही माँ होती है

और वही औरत कहलाती है .

 

50. आपको इन उद्धृतियों से कुछ सिखने में मदद मिले,

और आप इन्हें अपने जीवन में उत्तम करने के लिए प्रेरित हों.

 

यह भी देखिए:

Online Ghar Baithe Kaam : घर बैठे जॉब करने का सुनहरा मौका …

Job Transfer Application in Hindi : जॉब ट्रांसफर के लिए एप्लीकेशन letter लिखे ऐसे..

Best 40+ Munawar Faruqui Shayari on Love in hindi : मुनव्वर फारुकी की हिंदी में शायरी

Author

  • Sneha Belkar

    पेशे से इंजीनियर और ब्लॉगिंग, वर्डप्रेस, कोडिंग, आर्टिकल्स और सभी में अच्छा अनुभव रखने वाली व्यक्ति। नए परिवेश में अपना समुदाय बनाने के लिए उत्साहित हूं और मुझे लिखना पसंद है|

By Sneha Belkar

पेशे से इंजीनियर और ब्लॉगिंग, वर्डप्रेस, कोडिंग, आर्टिकल्स और सभी में अच्छा अनुभव रखने वाली व्यक्ति। नए परिवेश में अपना समुदाय बनाने के लिए उत्साहित हूं और मुझे लिखना पसंद है|